दुनिया के 5 पौराणिक जानवर

आपको पांच ऐसे 5 दानवों के बारे में बताने जा रहे है , जो सालों पहले धरती पर मौजूद थे | वो सिर्फ इंसानो का ही शिकार करते थे , या यूँ कहें की वो इंसानो के सबसे बड़े दुश्मन थे | वैम्पायर बिल्कुल दिखने में इंसानो जैसे लगते थे लेकिन थे वो इंसानो के बीच में छुपे हुए दानव |

उन्हें सिर्फ इंसानो का ही खून पीना पसंद था | जिसके कारण वो इंसानो का शिकार करते थे | उनकी सबसे बड़ी कमजोरी दिन का उजाला था | जिसकी वजह से वो रात के वक़्त ही शिकार के लिए निकलते थे | पौराणिक किताबों में इनके होने का प्रमाण आपको मिल जायेगा | जिससे ये साबित होता है की ये दुनिया में मौजूद थे | जो ज़ॉम्बीज़ को आपने कई बार मूवीज में भी देखा होगा | जो अपने सामने आने वाले हर जीवित प्राणी का शिकार कर लेता है | चाहे वो इंसान हो या फिर जानवर , अगर ज़ोम्बी के सामने कोई हलचल होती है तो वह उस पर हमला कर देता है | ज़ोंबी के काटने मात्र से ही सामने वाला ज़ोंबी बन जाता है | या कुछ समय के बाद वो ज़ोंबी में बदलने लगता है |

अगर आपको ज़ोंबी को मारना है तो वार हमेशा उसके सिर पर करें | वेयरवोल्फ , जिनका आधा शरीर इंसानो का होता है और आधा शरीर भेड़ियों का होता है | उनको वेयरवोल्फ के नाम से भी जाना जाता है क्योंकि इनमे अपने आप को भेड़ियों में बदलने की शक्ति होती है | जब चाँद का रंग नीला होता है , तब ये भेड़िये बनकर इंसानो का शिकार करने निकल जाते है , जब चाँद बादलों के पीछे छिप जाता है तो ये वापिस इंसान बन जाते है | वेयरवोल्फ काफी ताकतवर और खतरनाक होते है |

विच को आप डायन के नाम से भी जानते है | जिनके पास काली शक्तियां होती थी और जो किसी भी इंसान को मार देती थी | इनके पास अपने आप को किसी भी रूप में बदलने की शक्ति होती है | वो मर्दों और बच्चों पर हमला करती है | आज भी यह कहा जाता है की डायन आज भी हमारे बीच मौजूद है | जो ज्यादातर ग्रामीण इलाकों में पायी जाती है |

साईक्लोप्स एक आंख वाले बड़े दानव होते है | हज़ारों सालों पहले वे दुनिया पर राज करते थे | उनके सबूत पौराणिक किताबों में देखे जा सकते है | कई जगह इनके जीवाश्म भी मिले हैं , जो इनका धरती पर होना साबित करते है | ग्रीक सभय्ता में भी उनको देवताओं के साथ लड़ते हुए दिखाया गया है | ये साईक्लोप्स इंसानो से भी देखने में बड़े होते थे |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *