भारत के कुछ ऐसे गॉंव ( Village) जो अपनी अलग पहचान से जाने जाते हैं

भारत के कुछ ऐसे गॉंव जो अपनी अलग पहचान से जाने जाते हैं और उनके कुछ अलग हे नियम हैं ।

1 – एक गॉंव जहाँ कुछ भी छूने पर 1000 रूपए का जुरमाना है और यह गॉंव हिमचाल प्रदेश के कुल्लू जिले में एक गॉंव स्तिथ है जिसका नाम है मलाणा । इसे हम भारत का सबसे रहस्मय गॉंव भी कह सकते हैं । यहाँ के निवासी खुद को सिकंदर के सैनिकों का वंशज मानते हैं और यहाँ पर भारतीय कानून भी नहीं चलते । यहाँ की अपनी संसद है जो साजो सारे फैसले करती है । मलाणा भारत का इकलौता गॉंव है जहाँ मुग़ल सम्राट अकबर की पूजा की जाती है । इस गाँव के किसी भी व्यक्ति या किसी भी चीज़ को किसी भी बहार वाले ने छु लिए तो 1000 रूपए जुरमाना देना पड़ता है । ऐसा नहीं है की इस गाँव के लोग ज़बरदस्ती पैसा वसूलते हैं बल्कि जगह जगह पर नोटिस बोर्ड लगा रखे हैं जिस पर साफ़ साफ़ लिखा है की बाहरी वयक्ति किसी भी चीज़ को हाथ नहीं लगा सकता । अपनी विचित्र परम्पराओं के कारण पहचान बनाने वाले इस गांव में हज़ारों की गिनती में लोग पहुँचते हैं लेकिन रहने की वयवस्था गाँव के बाहर की जाती है वह लोग गाँव के बाहर टेंट में रहते हैं। मलाणा गाँव में कुछ दुकाने भी हैं जहाँ से गाँव के लोग आराम से सामान खरीद सकते हैं लेकिन बाहरी लोग ना तो दूकान पर जा सकते हैं ना ही कुछ छु सकते हैं। बाहरी लोगों को दूकान के बाहर से ही सामान मांगना पड़ता हैं । दुकानदार पहले कीमत बताते हैं और फिर पैसे बाहर रखवाते हैं और उसके बाद सामान भी बाहर रखते हैं ।

2 – एक अनोखा गाँव जहां हर कोई संस्कृत बोलता है । आज क वक़्त में हमारे देश की राष्ट्र भाषा भी संकट में झूज रही है लेकिन कर्नाटक के शिमोगा शहर से कुछ हे दूरी पर एक गाँव हैं जहाँ के गाओवासी केवल संस्कृत में हे बात करते हैं।इस गाँव का नाम मुत्तुरु है जो तुंग नदी के किनारे बसा है । इस गाँव में संस्कृत प्राचीन काल से हे बोली जाती है । भाषा पर किसी धर्म और समाज का कोई अधिकार नहीं होता । इसी लिए वहां रहने वाले मुस्लिम परिवार भी उतनी हे सहजता से संस्कृत बोलते हैं जैसे बाकि ।

3 – ट्विन्स विलेज यह करेला के मल्लपुरम जिले में स्तिथ गाँव जिसे जुड़वों के नाम से भी जाना जाता है । यहाँ वर्तमान में 350 जुड़वाँ रहते हैं ।जिसमें नवजात शिशु से लेकर 65 साल तक के बुज़ुर्ग भी शामिल हैं । विश्व स्तर पर यहाँ हर 1000 बच्चों पर 4 जुड़वाँ बच्चे पैदा होते हैं । लेकिन कोढ़िनि गाँव में तो हर 1000 बच्चों पर 45 जुड़वाँ बच्चे पैदा होते हैं । कोढ़िनि गाँव एक मुस्लिन इलाका है जिसकी आबादी करीब 2000 है । इस गाँव में घर , स्कूल , बाजार हर जगह आपको जुड़वाँ बच्चे नज़र आ जायेंगे ।

4 – एक ऐसा गाँव जहां दूध और दही मुफ्त मिलता है । आज क ज़माने में जहाँ पानी भी खरीदना पड़ता है । यहाँ एक गाँव दूध या उस से बन ने वाली कोई चीज़ बेचता नहीं है बल्कि मुफ्त में बाँटता है । यह अनोखा गाँव है गुजरात में बसा धोकरा गाँव । इस गाँव में दूध ना बेचने की परम्परा सदियों से चली आ रही है । गाँव में जिनके पास गाय या भैंस नहीं है उन्हें हर रोज़ मुफ्त में दूध दान दिया जाता है । यहाँ के लोग बताते हैं की उन्हें महीने में लगभग 8000 का दूध फ्री मिल जाता है ।

5 – एक ऐसा गाँव जहाँ अभी भी चलता है राम राज्य । महारष्ट्र के अहमद जिले में स्तिथ शनिशिंगापुर भारत का एक ऐसा गाँव है जहाँ लोगों क घरों में एक भी दरवाज़ा नहीं है और यहाँ तक की लोगों की दुकानों में भी दरवाज़े नहीं होते । यहाँ पर कोई भी अपनी बहुमूलिये चीज़ों को ताले चाबी में बंद कर के नहीं रखता फिर भी गाँव में आज तक कोई चोरी नहीं हुयी । यह जगह शनि मंदिर के लिए भी विश्व भर में प्रसिद्ध है । लोगों की मान्यता है की पूरे गाँव में शनि देव की कृपा बनी हुई है और अगर किसे ने गाँव में चोरी की तो उससे शनि देव के क्रोध का सामना करना पड़ेगा । इस लिए इस गाँव को राम राज्य के नाम से भी जाना जाता है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *